स्टूडेंट्स को बड़ी राहत:PGDM और MBA में ग्रेजुएशन के नंबर के आधार पर मिलेगा एडमिशन, AICTE ने संस्थानों को मेरिट लिस्ट तैयार करने के दिए निर्देश

  • देश में फैली कोरोना महामारी के चलते AICTE ने लिया यह फैसला
  • प्रवेश परीक्षा में उपस्थित और परीक्षा पास हुए उम्मीदवारों को मिलेगी वरीयता

ऑल इंडिया काउंसिल ऑफ टेक्निकल एजुकेशन (AICTE) ने स्टूडेंट्स को बड़ी राहत देते हुए PGDM और MBA पाठ्यक्रमों में ग्रेजुएशन के अंक के आधार पर प्रवेश देने का फैसला किया है। देश में फैली कोरोना महामारी के चलते AICTE ने यह फैसला लिया है। दरअसल, महामारी की वजह से PGDM और MBA जैसे प्रोगाम में एडमिशन के लिए इंस्ट्टीयूट एंट्रेंस एग्जाम आयोजित नहीं कर पाए हैं। ऐसे में मौजूदा स्थिति को देखते यह फैसला किया गया है।

सिर्फ इस शैक्षणिक सत्र में मिलेगी सुविधा

संस्थान ने यह भी साफ किया है कि यह छूट सिर्फ 2020-21 शैक्षणिक सत्र के लिए उपलब्ध कराई जा रही है। MBA और ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनजमेंट (PGDM) जैसे कोर्सेस में एडमिशन के लिए विभिन्न राज्यों में CAT, XAT, CMAT, ATMA, MAT, GMAT जैसी परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। लेकिन इस बार यह एंट्रेंस एग्जाम आयोजित नहीं किया जा सका।

AICTE को दिए संस्थानों को निर्देश

AICTE के सदस्य सचिव राजीव कुमार ने कहा कि PGDM और MBA में दाखिले के लिए संस्थानों को निर्देश दिया है कि वह पारदर्शी तरीके से मेरिट सूची तैयार कर स्टूडेंट्स को एडमिशन दें। हालांकि, उन उम्मीदवारों को पहली वरीयता दी जाएगी, जो किसी भी प्रवेश परीक्षा में उपस्थित हुए हैं और परीक्षा पास की हो। देश में कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन के बाद अब अनलॉक की प्रक्रिया जारी है। हालांकि, अभी भी शैक्षणिक संस्थान 31 अगस्त तक बंद हैं। वहीं, कोरोना के तेजी से बढ़ रहे मामलों के बीच 31 के बाद भी स्कूल-कॉलेज खुलने के आसार कम ही नजर आ रहे हैं।

Leave a Reply 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *