NEET- UG 2020:सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब 13 सितंबर को ही होगी परीक्षा, 6000 परीक्षा केंद्रों में एग्जाम देंगे 15 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स

  • सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए दो उम्मीदवारों को दो मीटर की दूरी पर बैठाया जाएगा
  • बायोमेट्रिक और सत्यापन के लिए रिपोर्टिंग टाइम से एक घंटे पहले पहुंचना होगा परीक्षा केंद्र

नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) यूजी- 2020 परीक्षा को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई में कोर्ट ने परीक्षा को स्थगित करने वाली याचिका को खारिज कर दिया। कोर्ट के इस फैसले के बाद अब परीक्षा तय शेड्यूल के मुताबिक 13 सितंबर को आयोजित की जाएगी। वहीं, कोरोना के बीच हो रही इस परीक्षा में इस बार कई तरह के बदलाव किए जाएंगे। संक्रमण से बचाव के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने परीक्षा कुछ बदलाव किए हैं।

15 लाख से ज्यादा कैंडिडेंट्स होंगे शामिल

इस बार परीक्षा में 15 लाख से ज्यादा कैंडिडेट्स के शामिल होने की उम्मीद है। ऐसे में कोरोनोवायरस प्रकोप के बीच परीक्षा आयोजित करना चुनौतीपूर्ण कार्य बन गया है। इसी क्रम में एजेंसी ने परीक्षा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए एचआरडी मंत्रालय के निर्देश के बाद NEET 2020 के लिए परीक्षा केंद्रों की संख्या को दोगुनी करने का फैसला किया है। अब यह परीक्षा 3000 के बजाय 6000 एग्जाम केंद्रों में आयोजित होगी। इसके साथ ही अब दो उम्मीदवारों को दो मीटर की दूरी पर बैठाया जाएगा।

पहली बार 6000 केंद्रों में होगी परीक्षा

इसके अलावा परीक्षा के दौरान प्रश्न पत्र के साथ डिस्पोजेबल मास्क देने की भी योजना है। साथ ही 12 कैंडिडेट्स के बीच 2 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति पर भी विचार किया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एनटीए के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि यह अपने आप में एक रिकॉर्ड होगा, क्योंकि एक ही दिन में 6,000 से अधिक परीक्षा केंद्रों में कोई प्रवेश परीक्षा आयोजित नहीं की गई है।

सुविधा के मुताबिक परीक्षा केंद्र चुन सकते हैं कैंडिडेट्स

NEET 2020 देश के 155 प्रमुख शहरों में आयोजित की जाएगी। हालांकि, मौजूदा हालात को देखते हुए एजेंसी ने उम्मीदवारों को को अपनी सुविधा के अनुसार परीक्षा केंद्र चुनने की छूट दी है। NTA ने परीक्षा केंद्रों के आवंटन के लिए पहले आओ-पहले पाओ की पध्दति को अपनाया है। NEET परीक्षा केंद्र का पूरा नाम और पता एडमिट कार्ड जारी होने का बाद अलॉट होगा। इसके अलावा NEET परीक्षार्थियों को बायोमेट्रिक और सत्यापन के लिए रिपोर्टिंग टाइम से एक घंटे पहले आवंटित परीक्षा केंद्रों पर पहुंचना होगा।

NEET 2020 आरक्षण मानदंड

सरकारी दिशा-निर्देश के मुताबिक जाति और छात्रों की श्रेणी के आधार पर एक निश्चित आरक्षण तय है। NEET 2020 आरक्षण मानदंड काउंसलिंग प्रक्रिया में सीट आवंटन के लिए प्रत्येक श्रेणी के हकदार आरक्षण का प्रतिशत बताता है।

वर्गप्रतिशत
ओबीसी27
एससी15
एसटी7.5
फिजिकली हैंडिकैप्ड5
इकोनॉमिकली वीकर सेक्शन10

परीक्षा के लिए ड्रेस कोड

मेल कैंडिडेट्स

  • NEET के ड्रेस कोड के अनुसार, मेल कैंडिडेट्स को यह सुनिश्चित करना होगा कि वे आधी बांह की शर्ट / टी-शर्ट पहनें, क्योंकि परीक्षा में फुल स्लीव शर्ट पहनने की अनुमति नहीं है।
  • कपड़े हल्के होने चाहिए यानी जिप जेब, जेब, बड़े बटन और ज्यादा कढ़ाई वाले कपड़े नहीं होने चाहिए।
  • मेल कैंडिडेट्स ट्राउजर और सिंपल पैंट पहन सकते हैं, हालांकि, कुर्ता पायजामा की अनुमति नहीं है।
  • परीक्षा हॉल में जूते मना हैं,ऐसे में कैंडिडेट्स सैंडल और चप्पल पहन सकते हैं।

फीमेल कैंडिडेट्स

  • ऐसे कपड़े न पहनें जिनमें कढ़ाई, फूल, ब्रोच या बटन हों, क्योंकि ऐसे कपड़ों की परीक्षा के दौरान अनुमति नहीं हैं।
  • फुल आर्म लेंथ वाले कपड़े ना पहने। फीमेल कैंडिडेट्स को भी आधे आस्तीन के कपड़े पहनने होंगे।
  • हाई हील्स और मोटे जूते पहनने से बचें। इसके बजाय सैंडल या चप्पल का इस्तेमाल करें।
  • फीमेल कैंडिडेट्स को किसी भी प्रकार के आभूषण जैसे कि बालियां, नाक के छल्ले, अंगूठियां, पेंडेंट, हार, कंगन या पायल पहनने की अनुमति नहीं हैं।

वर्जित आइटम

  • पेन, पेपर, पेंसिल बॉक्स, प्लास्टिक पाउच, कैलकुलेटर, स्केल, राइटिंग पैड, इरेजर, इलेक्ट्रॉनिक कैलकुलेटर, स्कैनर, पेन ड्राइव, इत्यादि जैसे आइटम सख्त वर्जित हैं।
  • संचार उपकरणों जैसे मोबाइल फोन, इयरफोन, माइक्रोफोन, पेजर, स्वास्थ्य-बैंड को अंदर जाने की अनुमति नहीं है।
  • व्यक्तिगत सामान जैसे वॉलेट, काले चश्मे, हैंडबैग, बेल्ट, टोपी आदि परीक्षा के दिन नहीं ले जा सकते।
  • मधुमेह के उम्मीदवारों को ताजे फल / चीनी की गोलियां और परीक्षा हॉल के अंदर एक पारदर्शी पानी की बोतल ले जाने की अनुमति होगी।
Leave a Reply 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *